सावन के महीने में रुद्राक्ष धारण करने पर क्या लाभ प्राप्त होता हैं |

सावन मास में रुद्राक्ष को धारण करना अत्यंत लाभकारी मन जाता है.माना जाता है की कि रुद्राक्ष धारण करने से मनुष्य के आसपास नकारात्मक शक्तियां नहीं आती हैं तथा उसके घर में सुख-शांति बनी रहती है. ज्योतिषाचार्यो के अनुसार की माने तो जो व्यक्ति सात मुख वाले रुद्राक्ष को धारण करता है उसे सप्त ऋषियों का सदैव आशीर्वाद बना रहता हैं। ऐसे है सावन में रुद्राक्ष पहनने से कई लाभ प्राप्त होते| आइये Astrogurutips के इस आर्टिकल में जानते है क्यों मन जाता है सावन में रुद्राक्ष के लाभ और कौनसा रुद्राक्ष धारण करना चाहिए|

सावन के महीने में  रुद्राक्ष धारण करने पर क्या लाभ प्राप्त होता हैं |

सावन में रुद्राक्ष धारण करने के लाभ

  • रुद्राक्ष भगवान शिव का अक्ष है। 
  • रुद्राक्ष पहनने से घर सदा लक्ष्मी का वास रहता है।
  • रुद्राक्ष आपको दीर्घायु प्रदान करता है।
  • गृहस्थियों के लिए रुद्राक्ष अर्थ और काम का दाता है।
  • रुद्राक्ष पहनने से मन को शांति मिलती है।
  • जो व्यक्ति रुद्राक्ष की पूजा करता है उसे सभी दुःखों से छुटकारा मिल जाता है।
  • भगवान शिव का रुद्राक्ष सभी वणो के पाप का नाश करता है।
  • इसे पहनने से ह्रदय रोग बहुत जल्दी सही होते हैं।
  • भगवान शंकर का रुद्राक्ष धारण करने से मानसिक व्याधियों से मुक्ति मिलती है।
  • रुद्राक्ष पहनने से दुष्ट ग्रहों की शरीर में रोग काम लगते है

किस मुखी रुद्राक्ष का क्या मिला है फल?

शिव की शक्ति रुद्राक्ष के अलग-अलग लाभ हैं.और अलग-अलग प्रकार के रुद्राक्ष होते है| रुद्राक्ष को उसके मुख के अनुसार जानते हैं कि वे किस प्रकार की शुभता लिए होता है-

एक मुखी रुद्राक्षएक मुखी रुद्राक्ष पापों से मुक्ति दिलाने वाला और सभी कार्यों में सफलता दिलाने वाला होता है. पापों से मुक्ति दिलाने वाला और सभी कार्यों में सफलता दिलाने वाला होता है.

दो मुखी रुद्राक्षये रुद्राक्ष मानसिक शांति और कार्य व्यापार की सफलता के लिए होता है.

तीन मुखी रुद्राक्ष —  आत्मबल बढ़ाने और धन-धान्य बढ़ाने में शुभता प्रदान करता है.

चार मुखी रुद्राक्ष —  मानसिक परेशानियों और रोगों को दूर करने में सहायक होता है.

पांच मुखी रुद्राक्षयश कीर्ति और सुखों को बढ़ाने वाला होता है.

छह मुखी रुद्राक्ष —  तमाम तरह की बाधाओं को दूर करके माता लक्ष्मी की विशेष कृपा दिलाने वाला होता है.

सप्त मुखी रुद्राक्ष —  आयु में वृद्धि करने वाला होता है. इसे धारण करने वाले जातक पर अचानक से आई विपदा से बचाव होता है.

अष्ट मुखी रुद्राक्षन्यायालय संबंधी मामलों में विजय दिलाने में काफी शुभ साबित होता है.

नौ मुखी रुद्राक्षशत्रुओं का नाश करने और मां दुर्गा की कृपा दिलवाने वाला होता है.

दस मुखी रुद्राक्षभूतप्रेत बाधा और दुर्घटना आदि से बचाने वाला होता है.

ग्यारह मुखी रुद्राक्ष —  समाज में प्रतिष्ठा और सम्मान दिलाने के लिए शुभ साबित होता है.

बारह मुखी रुद्राक्ष —  तमाम तरह की मानसिक समस्याओं को दूर कर दरिद्रता का दूर करने वाला होता है.

तेरह मुखी रुद्राक्ष —  सभी प्रकार की मनोकामनाओं को पूरा करने वाला होता है.

चौदह मुखी रुद्राक्ष —  आत्म और शारीरिक दोनों प्रकार के बल को बढ़ाने वाला होता है.

गौरी शंकर रुद्राक्ष —  वैवाहिक जीवन को सुखमय बनाने वाला होता है.

गणेश रुद्राक्षसभी तरह की बाधाओं को दूर करके सुख-समृद्धि देने वाला होता है.

  

Take Assistance From Best Astrologers Now

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0